डॉक्टर कैसे बने. कितने साल लगते हैं?

क्या आप एक डॉक्टर बनना चाहते हैं? तो डॉक्टर बनने की प्लानिंग और तैयारी आपके जीवन में बहुत पहले स्टार्ट होनी चाहिए, न कि आपकी इंटरमीडिएट के बाद। डॉक्टर बनने के लिए step by step डिटेल इनफॉर्मेशन यहां दी गई है कि Doctor kaise bne? कौन से medical field courses ज्यादा फेमस है और Doctor Banne Ke Liye kitne sal lagte hain।

Doctor kaise bne?

डॉक्टर कैसे बने?

डॉक्टर बनने के लिए 12th पढ़ाई के दौरान, आपको भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान विषयों को लेना चाहिए। यदि आप जनरल कैटेगरी के है और MBBS प्रोग्राम के लिए apply करते हैं, तो आपको 17 age पूरे करने चाहिए, लेकिन 25 age से अधिक नहीं होना चाहिए।


Graduation

MBBS डॉक्टर बनने के लिए एक important डिग्री होता है। यह बारहवीं के बाद मेडिसिन में करियर शुरू करने का entry card की तरह होता है। आमतौर पर medical course साढ़े 5 साल का होता है जो एक साल की इंटर्नशिप के साथ खत्म होता है जो कि बहुत ही जरूरी है।


विशेषज्ञता (स्पेशलाइजेशन)

भारत में, लगभग 12,000 प्रोफेशनल एक साल में डॉक्टर की डिग्री पूरी करते हैं। अपना MBBS पूरा करने के बाद, आपको मेडिसिन के field में स्पेशलाइज के लिए मास्टर्स कोर्स करना चाहिए। NEET PG कॉमन एंट्रेंस एग्जाम है जो आपको विभिन्न PG डिप्लोमा कोर्सेस में एंट्री देगी।

मास्टर प्रोग्राम में MD सिलेक्ट करने वाले फिजिशियन बन जाते हैं वही दूसरी तरफ MS लेने वाले सर्जन बन जाते हैं।



डॉक्टर बनने के लिए कितने साल लगते हैं?

भारत में डॉक्टर बनने के लिए ज्यादातर ग्रेजुएशन कोर्स जैसे MBBS, BDS etc 4.5 साल के होते हैं.  और उसके बाद 1 साल का जरुरी इंटर्नशिप करना होता हैं. इस तरह से डॉक्टर बनने में साढ़े पांच साल का  लगता हैं.


भारत में 12वीं के बाद different types के फेमस मेडिकल कोर्स 

1. बैचलर ऑफ मेडिसिन, बैचलर ऑफ सर्जरी - MBBS 

MBBS doctor kaise bane? MBBS course के दौरान कैंडिडेट्स को प्री-क्लिनिकल, पैरा-क्लिनिकल और क्लिनिकल विषय पढ़ाए जाते हैं। एमबीबीएस कोर्स करने के बाद, candidates डॉक्टर के रूप में नियुक्त होने के लिए eligible हो जाते है। 


नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) वह authority है जो NEET को पेन और पेपर मोड में आयोजित करता है। नीट के आधार पर सरकारी मेडिकल कॉलेजों, डीम्ड/केंद्रीय विश्वविद्यालयों, ESIC और AFMS में एमबीबीएस सीटों पर एंट्री दिया जाता है। NTA NEET क्वालिफाई करके कैंडिडेट्स टॉप MBBS कॉलेजों में एंट्री ले सकते हैं।


सरकारी कॉलेजों में एमबीबीएस कोर्स की फीस डीम्ड और प्राइवेट यूनिवर्सिटी की तुलना में काफी कम है।

Duration of course- 5.5 साल है। जिसमे एक साल का इंटर्नशिप भी शामिल हैं.


2. बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी (BDS)

BDS भारत में सबसे फेमस मेडिकल कोर्सेस में से एक है।

Duration of course - 5 साल है, जिसमें एक साल की रोटेटरी इंटर्नशिप शामिल होता है।


3. बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक मेडिसिन एंड सर्जरी (BAMS)

भारत में आयुष कोर्सेस के अंदर BAMS कोर्सेस शामिल है। BAMS स्नातक आयुर्वेदिक चिकित्सक या डॉक्टर के रूप में काम करता हैं।

BAMS Duration of course - 5.5 साल है, UG level का मेडिकल कोर्स है।


4. बैचलर ऑफ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी (BHMS)

BHMS आयुष कोर्सेस के अंदर आता है। BHMS कोर्स के पूरा होने के बाद कैंडिडेट को भारत में होम्योपैथिक डॉक्टर के रूप में मान्यता प्राप्त है।

BHMS duration of course - 5.5 साल का UG मेडिकल कोर्स है।


5. पशु चिकित्सा विज्ञान में ग्रेजुएशन (B.V.Sc)

B.V.Sc एक मेडिसिन कोर्स है जो पशु चिकित्सा के अध्ययन से संबंधित है। कैंडिडेट सभी प्रकार के जानवरों में रोगों के ईलाज और उपचार की पढ़ाई करते हैं। B.V.Sc कोर्स पूरा करने के बाद, कैंडिडेट डॉक्टर बन जाते हैं या फेमस होकर पशु चिकित्सक के रूप में जाने जाते हैं।

B.V.Sc course समयावधि - 5.5 साल


6. बैचलर ऑफ यूनानी मेडिसिन एंड सर्जरी (BUMS)

BUMS एक UG लेवल का आयुष कोर्स है। BUMS कोर्स मेडिकल ईलाज के यूनानी तरीकों से जाना जाता है।

BUMS course - 5.5 साल का होता है। जिसमें से 1 year जरूरी इंटर्नशिप है।


एमबीबीएस और बीडीएस के अलावा, जो अधिकांश उम्मीदवारों की सर्वोच्च प्राथमिकता है।


Entrance examination

जो लोग MBBS, BDS या पशु चिकित्सा विज्ञान कार्यक्रम में पढ़ना चाहते हैं, उन्हें neet परीक्षा देना होगा। यह देश के विभिन्न मेडिकल कॉलेजों में छात्रों को एंट्री देने के लिए भारत में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा साल-दर-साल आयोजित की जाने वाली एक कॉमन एंट्रेंस एग्जाम है। neet exam में आपकी रैंकिंग decide करती है कि आप किन कॉलेजों में एडमिशन ले सकते हैं।

यदि आप आयुर्वेद, होम्योपैथी और यूनानी जैसे क्षेत्रों में स्पेशलाइज होना चाहते हैं, तो ऐसे विशेष कोर्स हैं जो आप अपने ग्रेजुएशन के दौरान कर सकते हैं।


कुछ कॉलेज जैसे JIPMER, AIIMS, आर्म्ड फोर्स मेडिकल कॉलेज, लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज, जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज, कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मौलाना आज़ाद मेडिकल कॉलेज, क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, आदि अपनी एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करते हैं। इन institute में शामिल होने के इच्छुक स्टूडेंट्स को इन कॉलेजों द्वारा आयोजित इन विशेष परीक्षाओं में participate करना होगा और उन्हें NEET के परीक्षा की आवश्यकता नहीं है। ये medical courses without neet होते हैं।


यहां आपने जाना की Doctor kaise bne और डॉक्टर बनने के लिए कितने साल लगते हैं। आप अपने thoughts या फीडबैक या questions कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं। साथ ही इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करना न भूलें। और ऐसे ही जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।


Tags: डॉक्टर कैसे बने, डॉक्टर बनने के लिए कितने साल लगते हैं, How to become a doctor in Hindi.

डॉक्टर कैसे बने? डॉक्टर कैसे बने? Reviewed by webkaise on February 14, 2022 Rating: 5
Powered by Blogger.